विज्ञापन

विश्व के 10 सबसे बड़े डायनासोर, Biggest dinosaurs - hindivigyan

Vishwa ke sabse bade dinosaur | विश्व के सबसे बड़े डायनासोर | HINDIVIGYAN.IN

दुनिया का सबसे बड़ा डायनासोर कौन है ? 

उन्नीसवीं सदी में जब विज्ञान ने कुछ ऐसे अवशेष पाए जो उनकी सोच और समझ से बहुत परे थे । हड्डियों के ढांचे जो दिल दहला देने वाले थे और आकार में इतने अधिक बड़े एवं दैत्याकार थे, जिनको समझ पाना टेढ़ी खीर थी । विज्ञान उन ढांचों को देखकर स्तब्ध रह गया क्योंकि उन्होंने कुछ ऐसा देखा था जिसकी परिकल्पना सपने में भी नहीं की गई थी । इनमें से कुछ तो दुनिया के सबसे खतरनाक डायनासोर हैं । हम आपके लिए लाए हैं कुछ ऐसे दैत्याकार डायनासोरों की सूची जिनको देखकर आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे, इनमें से कुछ विश्व के सबसे खतरनाक डायनासोर में से एक भी हैं ।

गिगैनटोसारस ( Giganotosaurus )

मांस भक्षी दैत्याकार डायनासोरों की श्रेणी का यह जीव 9 करोड़ साल पहले इस दुनिया में निवास करता था । अर्जेंटीना मैं पाया गया यह जीव 42 फीट लंबा और 13 फुट ऊंचा था । इसकी खोपड़ी का कंकाल लगभग 5 फीट था और आकार के अनुसार यह भोजन के लिए 1 टैरेनोसारस रेक्स के बराबर के जीव का शिकार करता था । लेकिन इनकी कमजोरी थी और वह थी रफ्तार । अपने भारी पैरों के ढांचे के कारण यह तेज नहीं दौड़ पाता था और इसलिए इसे शिकार करने में काफी कठिनाई होती थी । इसे दुनिया के सबसे ताकतवर डायनासोर में से एक माना जाता है । 

कारकैरोडोंटोसारस ( Carcharodontosaurus )

नाम देखकर चौंकिए मत क्योंकि इसके नाम का मतलब होता है शार्क जैसे दांतो वाला सरीसृप । यह जीव 9 से 11 करोड़ साल पहले अफ्रीका में रहा करते थे यह 42 फीट लंबे और 13 फुट ऊंचे होते थे । वजन 18 टन और खोपड़ी 5 फुट लंबी होती थी । इसके दांत और पंजे इतने नुकीले होते थे कि एक बार के हमले के बाद शिकार की भयंकर रक्त स्राव से शरीर में सुस्ती आ जाती थी और वह प्राण त्याग देता था । नुकीले दांतो की वजह से यह शरीर के बड़े-बड़े हिस्सों को काटकर अलग कर देते थे । 25 मील प्रति घंटे की रफ्तार के कारण यह शिकार करने में बहुत माहिर होते थे ।

पीलोसारस ( pliosaurus )

जल में रहने वाले पहले तो नहीं लेकिन सबसे दैत्याकार डायनासोर में से एक थे इन की लंबाई 50 फीट और वजन 45 टन होता था देखने में यह काफी हद तक मछली जैसा दिखता है अपने भयानक दांतों और पंजों की वजह से यह समुद्र का सबसे भयानक जानवर था इसके जबड़े 10 फीट लंबे और दांत 12 इंच के होते थे इस जानवर का शरीर आधा सर्प और आधा कछुए जैसा था यह जानवर उत्तरी एशिया और उत्तरी अमेरिका के क्षेत्र में रहता था

स्पाइनोसारस ( spinosaurus )

इसके नाम का मतलब है छिपकली जिसकी पीठ पर कांटे उम0 से 11:00 करोड़ साल पहले अफ्रीका में पाया जाता था उसकी लंबाई 59 फीट और ऊंचाई 15 फीट थी तथा वजन लगभग 12 टन था मांसाहारी डायनासोरों में इसकी खोपड़ी सबसे बड़ी थी जिसकी लंबाई करीब 7 फीट थी पानी में होने के दौरान अपने पैरों को छुपा लेते थे और मूंछ मगरमच्छों की तरह हिलाया करते थे इसके पंजों में पेंगुइन की तरह कोशिकाएं पाई जाती हैं।

डिप्लोडोकस ( diplodocus )

15 से 15.5 करोड़ों साल पहले यह जीव Jurassic क्षेत्र में रहते थे इनकी की लंबाई करीब 108 फीट और ऊंचाई 23 फीट तथा वजन 15 टन होता था इसके आगे के पैर थोड़े छोटे और पीछे के पैर बड़े होते थे इसकी गर्दन हॉरिजॉन्टल ही रहती थी यह शाकाहारी जीव होते थे और जुरासिक समय की भीम काय पौधों को खाया करते थे इनके गर्दन की तरह है कुछ भी बहुत लंबी होती थी और जिस समय यह हिलाते थे तो तूफान की जैसी आवाज आती थी
dinosaur

ब्राकियोसारस ( brachiosaurus )

यह 15 से 16 करोड साल पहले धरती पर रहा करते थे इसके नाम का मतलब होता है । हाथों वाली छिपकली इन की लंबाई 85 फ़ीट और ऊँचाई 29 फ़ीट थी और वजन 35 टन होता था । यह यूरोप अफ्रीका और उत्तरी अमेरिका के क्षेत्र में रहा करते थे यह पेड़ों की पत्तियां खाने के लिए दो पैरों पर भी खड़े हो जाते थे अर्थात यह शाकाहारी होते हैं ।

मेमेंचीसारस ( mamenchisaurus )

15.6 करोड़ों साल पहले पाया जाने वाला यह जीव चीन में अवशेष के रूप में मिला था 80 फ़ीट लंबाई और 82 फ़ीट की ऊंचाई के साथ इसका वजन करीब 30 टन होता था । यह भी शाकाहारी जानवर होते थे और सबसे भीमकाय जानवरो में से एक थे ।

सॉरोपोसाइडन ( sauroposeidon )

ऐसा माना जाता है कि ग्रीक देवता पोसाईडन भूकंप के लिए उत्तरदाई होते हैं इसलिए इसका नाम देवता पास पोसाईडन के नाम पर रखा गया अर्थात ऐसी छिपकली जो भूकंप लाती हो या जिसके चलने पर भूकंप आता हो 111 फीट लंबे और 54 फीट ऊंचे इस दानव का राज 12 करोड़ साल पहले उत्तरी अमेरिकी क्षेत्र में हुआ करता था तथा वजन 55 टन के लगभग हुआ करता था इसके जबड़े इतने शक्तिशाली नहीं होते थे परंतु इस शाकाहारी जीव द्वारा खाए गए भोजन को कुचलने का काम गले में पाई जाने वाली हड्डियां होती थी |

अर्जेंटिनोसारस ( argentinosaurus )

अर्जेंटीनोसारस अब तक पाया गया सबसे बड़ा डायनासोर है 128 फ़ीट लंबाई 52 फ़ीट की ऊँचाई के साथ 70 टन वजन होने के कारण यह सबसे बड़े दैत्याकार जानवरो में से एक था । इसका जबड़ा 5 फ़ीट लम्बा और चौड़ाई 4 फ़ीट थी । यह भी मूल रूप से शाकाहारी जानवर था जो पेड़ों की पत्तियां खाता था ।

टाइटैनोसारस ( Titanosaurus )

यह डायनासोर आज से लगभग 9.5 से दस करोड़ साल पहले इस धरती पर रहा करते थे । यह उस समय पृथ्वी पर रहने वाले दानवों में से सबसे बड़े डायनासोरों में से एक था । इसका वजन 77 टन होता था पता लंबाई 37.2 मीटर यानी करीब 122 फीट होती थी । लेकिन कुछ जीवाश्म विशेषज्ञों का मानना है की यह बहुत ज्यादा बताया गया है । इसे पटैगो टाइटन नाम दिया गया था जिसे टाइटैनोसारस के नाम से भी जाना जाता है । इसकी खोज सन 2014 में हुई थी परंतु इसका नामकरण 2017 में हुआ है । प्राप्त जीवाश्म के अनुसार इसके सिर्फ जांग की हड्डी की लंबाई करीब 2.4 मीटर यानी लगभग 8 फ़ीट है । आप इसकी विशालता का अनुमान इस बात से लगा सकते हैं कि मनुष्य की औसत लम्बाई करीब 6 फ़ीट ही होती है । 

ड्रेडनॉटस ( dreadnoughtus ) 

ऐसा माना जाता है की अब तक पाए गए दुनिया के सबसे बड़े डायनासोर का कंकाल ड्रेडनॉटस है । हालांकि जमीन से इस डायनासोर की लंबाई करीब 26 मीटर थी लेकिन सिर से पूछ तक लम्बाई लगभग 40 मीटर थी । इसका वजन करीब 65 टन हुआ करता था । इसका जीवाश्म अर्जेंटीना के दक्षिणी पेटागोनिया में पाया गया था । 

उपसंहार

डायनासोर आज से करीब 15 करोड़ साल पहले के इतिहास में हुआ करते थे । आज जो भी रुझान और अनुमान हैं वे सिर्फ इनके जीवाश्मों के अनुसार किये जाते हैं । यहां तक कि इनके नाम भी मानव रचित हैं । इसलिए इनके वास्तविक आकार, रंग और रूप का कोई वास्तविक अनुमान नहीं है । परंतु इनके कंकाल के ढांचे से यह लगभग में पता किया गया । ये थे दुनिया के सबसे बड़े डायनासोर, जिनमें से कुछ दुनिया के सबसे ताकतवर डायनासोर भी हैं । इनमें से कुछ प्रायः शाकाहारी तो कुछ दुनिया के सबसे खतरनाक डायनासोर हैं । ये आकार में इतने बड़े थे कि इन्हें दुनिया का सबसे ताकतवर डायनासोर कहा जाए तो गलत नहीं होगा । जानकारी अच्छी लगे तो नीचे कमेंट करके हमारे न्यूज़ लेटर को मेल आईडी के साथ सब्सक्राइब कर लें ।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां