विज्ञापन

मानव शरीर से जुड़े 40 रोचक तथ्य - interesting facts about human Body

मानव शरीर से जुड़े 40 रोचक तथ्य

Human body facts in hindi


मनुष्य इस धरती में रहने वाले सारे सजीव प्राणियों में से सबसे अलग है । बनावट में ही नहीं क्रियाकलापों और जीवन निर्वाहन में भी ये और प्राणियों से अलग माने जाते हैं ।

जंगली जानवरों की तुलना में मनुष्य सबसे समझदार प्राणी है जो अपने साथ साथ सभी प्राणियों का ख्याल रखता है । ऐसे जानते हैं 25 interesting Facts About Human Body जो शायद ही आपने सुने होंगे ।

1) मनुष्य के शरीर में प्रति सेकंड लाखों कोशिकायें मरती एवम पैदा होती हैं ।

2) प्रति सेकंड पैदा होने वाली कोशिकाओं में से कुछ ऐसी कोशिकायें भी जन्म लेती हैं जो कैंसर बन सकती हैं पर हमारे शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली उन्हें नष्ट कर देती है ।

3) अगर आप देर रात तक जागते हैं तो जुकाम होने की संभावना लगभग 80% तक बढ़ जाती है । क्योंकि आयुर्वेद में ऐसा माना जाता है कि सोते समय हमारे शरीर में क्षतिग्रस्त हो चुकी कोशिकाओं और अंगों की रिपेयरिंग की जाती है परंतु यह प्रक्रिया कम सोने से नहीं हो पाती । प्रतिरक्षा प्रणाली भी काम करना बंद कर देती है नतीजतन साधारण फ्लू वायरस जिसे जुकाम कहते हैं, आपको बीमार बना देती है ।

4) मानव शरीर रात 2 बजे से सुबह 4 बजे के मध्य में सबसे कमजोर होता है । फिर चाहे आप सो रहे हो या जाग रहे हो । प्रायः ऐसा देखा गया है कि हृदय या अन्य बीमारियों से ग्रस्त लोग इस समय के दौरान ज्यादातर मृत्यु को प्राप्त होते हैं ।

5) सोना मनुष्य के लिए क्यों इतना आवश्यक है ये हम आज तक नहीं जान पाए ।

6) मानव मस्तिष्क का 80% हिस्सा पानी होता है ।

7) मनुष्य की जांघ में फीमर नाम की हड्डी होती है स्टील से ज्यादा स्ट्रांग होती है, ऐसा माना जाता है कि ये हड्डी करीब 1 टन तक का वजन उठा सकती है ।

8) दुनिया की कुल जनसंख्या भी हमारे मुह में रहने वाली बैक्टीरिया की संख्या से कम है ।

9) पैदल चलने और दौड़ने को सम्पूर्ण व्यायाम कहा जाता है, क्योंकि ऐसा करने से हमारे शरीर की लगभग 250 मांसपेशियां एक साथ काम करती हैं ।

10) रोचक : मानव शरीर अपने आपको हर 7 से 10 साल में Renew करता है, अर्थात 7 से 10 साल के बीच में शरीर की लगभग हर कोशिका खत्म होकर नई कोशिका में बदल जाती है ।

11) मनुष्य वृद्ध होने तक यानी 70 कि उम्र तक पहुँचते पहुचते करीब 45000 लीटर पानी पी चुका होता है ।

12) मनुष्य की जीभ 0.0015 सेकंड में पता लगा सकती है कि खाया हुआ पदार्थ का स्वाद क्या है ? जबकि हमारे पलक झपकने में भी इससे ज्यादा समय लग जाता है ।

13)  हम सांस के माध्यम से शरीर के अंदर जिंदगी में करीब 25 किलोग्राम तक धूल लेते हैं ।

14) अगर हमारे शरीर में खून से आयरन को बाहर निकाल दिया जाए तो इससे करीब दो सेंटीमीटर की एक कील बनाई जा सकती है ।

15) हमारे पेट में पाए जाने वाला एसिड एक स्टील ब्लेड को पूरी तरह गलाने में सक्षम है ।

अन्य पोस्ट:-





मानव शरीर के रोचक तथ्य :-

डर लगने पर रोंगटे क्यों खड़े हो जाते हैं ?

16)  क्या आप जानते हैं , रोंगटे खड़े होना हमारे शरीर के विकास की प्रक्रिया का हिस्सा है । पुराने समय में मनुष्यों के बाल बड़े बड़े होते थे, और किसी जानवर के हमले के समय उस जानवर को डराने के लिए ये शरीर की स्वभाविक प्रक्रिया थी, जिससे हम उस जानवर को ज्यादा भयानक दिखाई दें और इससे वह डर जाए ।

कार या गाड़ियों में कुछ लोगों को उल्टी क्यों हो जाती है ?


17) ये भी मानव विकास की प्रक्रिया का एक हिस्सा हैं, पुराने समय में जब मनुष्य ने शाकाहार को मांसाहार के बाद चुनना शुरू किया तो उस समय वनस्पतियों का ज्यादा ज्ञान नही था, ऐसे में मनुष्य कुछ जहरीले पौधे और फलों का सेवन भी कर लेते थे, जिससे उन्हें चक्कर आने लगता था और दिमाग में एक तरह की confusion की स्थिति जैसी उतपन्न होती थी, जिनसे उनकी जान चली जाती थी । धीरे धीरे शरीर ने प्रतिरोधक क्षमता विकसित की और जैसे ही कोई विषैला फल या पत्ती का सेवन किया तो उल्टी हो जाती थी, ऐसे में वह विषैला पदार्थ शरीर से बाहर निकल जाता था और जान बच जाती थी ।

कार में उल्टी होने की क्रिया इसी सिद्धांत पर काम करती है , दरअसल कार में बैठे होने पर कुछ लोगों के मस्तिष्क में भ्रांति उत्पन्न होती है, उनका शरीर और मस्तिष्क का आपसी तालमेल नहीं बन पाता ।

शरीर कार में बैठे होने पर ये सोचता है कि कार चल रही है पर मस्तिष्क को लगता है कि कार रुकी हुई है, आपने मस्तिष्क का अवचेतन मन आपके बिना किसी कमांड के काम करता रहता है, जैसे कि शरीर के गिरते समय संतुलन बनाना, सामने अचानक से किसी चीज के आने पर प्रतिक्रिया देना आदि, तो आपका अवचेतन मन इस चीज का तालमेल नहीं बन पाने पर दिमाग में confusion की स्थिति पैदा होती है , ऐसे में शरीर सोचता है कि कोई खतरनाक जहर शरीर में प्रवेश कर गया है, जो विकास प्रणाली के कारण उल्टी करके उसे निकालने की प्रक्रिया पैदा करता है । और इस लिए कुछ लोगों को वाहन में उल्टी होने लगती है ।

18) शरीर में लीवर ही एक मात्र ऐसा अंग है जो कट जाने पर दोबारा उग सकता है ।

19) अगर हम शरीर की मुख्य धमनी को शरीर से बाहर निकाल दें तो खून की धारा 30 फ़ीट दूर तक जा सकती है ।

20) क्या आप जानते हैं हमारे शरीर में स्थित छोटी आंत की लंबाई 25 से 30 फ़ीट तक होती है ।

21) छोटी आंत में भोजन का 90 % हिस्सा पच जाता है ।

22) छोटी आंत हमारे शरीर के रोगों से लड़ने में सहायक है । ये हमारे इम्यून सिस्टम का 95% हिस्सा है ।

23) क्या आप जानते हैं, हमारे शरीर में ग्लूटेन प्रोटीन का रिएक्शन हमारी छोटी आंत के लिए नुकसानदेह होता है । ये ग्लूटेन प्रोटीन गेहूं में पाया जाता है ।

24) हमारे नाखून और बाल एक ही प्रोटीन से बने होते हैं जिसे केराटिन कहते हैं ।

25) हमारी जीभ ही एकमात्र ऐसी मांसपेशी है जो बिना हड्डी से जुड़े स्वतंत्र रूप से काम करती है ।

26) हमारे अक्ल दांत जिसे wisdom teeth के नाम से जाना जाता है, इनका वैज्ञानिक तौर पर शरीर से कोई उद्देश्य और आवश्यकता नहीं है, पुराने समय में मस्तिष्क छोटा होता था और दांत ज्यादा, पर जैसे जैसे मस्तिष्क बड़ा हुआ, वैसे वैसे बेवजह के दांत कम होते गए ।

27) वैज्ञानिक अभी तक नहीं जानते कि हमें उबासी ( YAWN ) क्यों आती है ? वैज्ञानिकों ने अबतक इसके दो कारण बताए हैं, पहला की इससे शरीर का तापमान संतुलित होता है और दूसरा की इससे शरीर में ऑक्सीजन की कमी होने पर उसका शरीर संतुलन बनाता है ।

28) लोगों का ऐसा मानना है कि मरने के बाद भी बाल और नाखून बढ़ते रहते हैं, पर ये पूरी तरह गलत है ।

29) शरीर का रोमांचक तथ्य : अगर हमारे शरीर में स्थित सभी नसों को एक सीध में जोड़ दिया जाए तो यह पृथ्वी के 4 चक्कर तक लपेटा जा सकता है ।

30) मनुष्य ही ऐसा प्राणी है जिसके दाढ़ी होती है ।

31) आपको ये जानकर हैरानी होगी कि हमारी नाक के दोनों छेद एक साथ बराबर काम नहीं करते, ये हर घण्टे काम को बदलते रहते हैं , यानी आप हमेशा देखेंगे कि आपकी एक नाक से आसानी से हवा निकल रही है और दूसरी से कम, फिर एक घण्टे बाद कम वाली से ज्यादा निकलेगी और ज्यादा वाली से कम ।

32) मनुष्य की नाक करीब 1000 करोड़ तरह की गंध को पहचान सकती है ।

33) हर किसी के शरीर में दो गुर्दे ( kidney ) होती हैं पर मनुष्य एक गुर्दे से आराम से जीवन जी सकता है ।

34) मनुष्यों की जीभ , हाथी के सूंड और ऑक्टोपस के पैर की मांसपेशी बनावट एक जैसी होती है ।

35) शरीर में सबसे तेज स्पीड वाली मांसपेशी आंख के ऊपर होती है , जो एक सेकंड के चौथे हिस्से पर अपना काम कर देती है ।

36) अगर मस्तिष्क से amygdala नाम का भाग निकाल दिया जाए तो उस व्यक्ति को किसी से डर नहीं लगेगा ।

37) जीवन भर में हृदय करीब 300 करोड़ बार धड़कता है ।

38) मनुष्य का बायां फेफड़ा दाहिने से छोटा होता है क्योंकि वह हृदय को रहने की जगह देता है ।

39) शार्क और मनुष्य के दांतों की मजबूती एक बराबर होती है ।

40) छींकने पर शरीर की हर प्रक्रिया रुक जाती है, यहां तक कि धड़कन भी ।

अन्य पोस्ट्स:-





मित्रों हमें आपके सहयोग की आवश्यकता है, अगर ये पोस्ट आपको पसंद आये तो इसे लोगों तक किसी भी माध्यम से जरूर शेयर करें । अगर ये पोस्ट अच्छी लगे तो हमारे न्यूज़ लेटर को जरूर सब्सक्राइब करें । मिलते हैं आगे ।
आंशिक सोर्स:- ज्ञानी मास्टर
और मेन्टल फ्लॉस

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ